वीर सावरकर जयंती

वीर सावरकर जयंती | | Veer Savarker Jayanti hindi mai || now gyan

Veer savarker jayanti in hindi: वीर सावरकर जिनका पूरा नाम विनायक दामोदर सावरकर था। यह भारत के महान क्रांतिकारी एवं राष्ट्रवादी नेता थे। इन्हें वीर सावरकर के नाम से भी जाना जाता है। इस महान पुरुष का जन्म 28 मई 1883 में हुआ। जिस कारण उनकी जयंती 28 मई को मनाई जाती है, और इस दिन की वीर सावरकर के देश के लिए दिए गए योगदान को याद किया जाता है।

वीर सावरकर जयंती कब मनाई जाती है :-

वीर सावरकर एक महान व्यक्ति थे। जिन्होंने बहुत से महान कार्य किए और भारत के लिए बहुत से योगदान दिए। इनकी जयंती हर वर्ष 28 मई को मनाई जाती है।

S.No.जयंती || jayantieदिन || day
1.वीर सावरकर जयंती 202128 मई 2021
2.वीर सावरकर जयंती 202228 मई 2022
3.वीर सावरकर जयंती 202328 मई 2023
4.वीर सावरकर जयंती 202428 मई 2024
5.वीर सावरकर जयंती 202528 मई 2025
वीर-सावरकर-जयंती-कब-है?

क्यों है महत्वपूर्ण वीर सावरकर जयंती :-

वीर सावरकर जी एक स्वतंत्रता सेनानी होने के साथ-साथ एक लेखक,वकील और हिंदुत्व की विचारधारा के बड़े समर्थक थे। कहते हैं की स्वतंत्रता आंदोलन के दौरान अंग्रेजों ने सावरकर को काला पानी की सजा दी। वीर सावरकर जी ने अपने जीवन का हर कीमती वक्त भारत देश को दिया। इसीलिए आज पूरा भारत उन्हें याद करते हुए उनकी जयंती 28 मई को मनाता है।

वीर सावरकर की जीवनी :-

जन्म28 मई 1883
जन्म स्थलभागुर गांव, (नासिक)
माता का नामश्रीमती राधाबाई
पिता का नामश्री दामोदर पंत
भाइयों का नामगणेश सावरकर
नारायण दामोदर सावरकर
मृत्यु26 फरवरी 1966

जन्म: वीर सावरकर –

वीर सावरकर जी का जन्म 28 मई 1883 को नासिक के समीप भागुर गांव में हुआ था।

माता-पिता: वीर सावरकर

वीर सावरकर जी की माता का नामराधाबाई तथा पिता का नाम – दामोदर पंत था। वीर सावरकर जी के दो भाई थे। गणेश व नारायण दामोदर सावरकर,तथा उनकी एक बहन नैनाबाई थी।

आरंभिक जीवन: वीर सावरकर

कहते हैं कि सावरकर जी का जन्म उस चितपावन ब्राह्मण कुल में हुआ, जहां इससे पूर्व भी अनेक देशभक्त और महापुरुषों का जन्म हुआ। इस कुल में जन्म लेने वाले नाना साहेब (स्वतंत्रता संग्राम के सेनानायक) प्रथम पेशवा, बालाजी विश्वनाथ, लोकमान्य बाल गंगाधर तिलक थे। उन्हीं के जैसे वीर सावरकर जी ने भी जन्म लिया, और उन्हीं के जैसे स्वतंत्रता सेनानी व वकील बने।

वीर सावरकर जयंती
वीर-सावरकर-जयंती

मृत्यु: वीर सावरकर

वीर सावरकर जी एक देशभक्त रहे। इसके साथ ही वह एक वकील भी थे। उन्होंने समाज में अनेक सुधार किए, वह इतिहास राष्ट्रवादी नेता तथा विचारक थे। वह सभी के प्रिय थे, और सभी उनका आदर करते थे। 26 फरवरी 1966 को उनकी मृत्यु हो गई। वीर सावरकर जी सभी को छोड़ कर चले गए। उनके महान कार्य को याद करके प्रतिवर्ष उनकी जयंती 28 मई को मनाई जाती है।

वीर सावरकर : काला पानी :-

वीर सावरकर जी को नासिक जिले के कलेक्टर जैक्सन की हत्या के षड्यंत्र में 8 अप्रैल 1911 को काला पानी की सजा सुनाई गई,तथा सैल्यूलर जेल पोर्ट ब्लेयर भेज दिया गया। वीर सावरकर को सैल्यूलर जेल की तीसरी मंजिल की एक छोटी सी कोठरी में रखा गया था। इस प्रकार उन्हें झूठे षड्यंत्र में जेल भिजवा कर काला पानी की सजा दी गई।

 Veer Savarkar Jayanti in hindi

वीर सावरकर का भारत के लिए संघर्ष :-

वीर सावरकर के माता-पिता बहुत महान थे। जिन्होंने वीर सावरकर जैसे सुपुत्र को जन्म दिया। वीर सावरकर जी ने भारत के लिए बहुत से संघर्ष किए।

  1. वे भारत देश के लिए जेल गए और अंग्रेजों से माफी तक मांगी।
  2. उन्होंने अनेक आंदोलन में भाग लिया और भारत की एकता के लिए लड़े।
  3. उन्होंने समाज में एकता फैलाने के लिए बहुत से संघर्ष किए।
  4. वीर सावरकर वकील बनकर अपने देश के लिए लड़े।
  5. उनके बहुत योगदान के बाद वे लोगों में नायक बन गए।

Leave a Comment

Your email address will not be published.