यूनानी स्वतंत्रता युद्ध | yoonaanee svatantrata yuddh hindi mai | now gyan

यूनान का स्वतंत्रता युद्ध || Greek independence war in hindi :- 

यूनानी स्वतन्त्रता युद्ध
यूनानी-स्वतन्त्रता-युद्ध

यूनानी स्वतंत्रता युद्ध क्रांतिकारियों के  निर्वासन में रह रहे यूनानियो के साथ पश्चिमी यूरोप के अनेक देशों के लोगों का भी समर्थन प्राप्त हुआ। ये लोग प्राचीन यूनानी संस्कृति के प्रति विशेष सहानुभूति रखते थे। कवियों और कलाकारों ने युनान को यूरोपीय सभ्यता का पालना बताकर प्रशंसा की और एक मुस्लिम साम्राज्य के युनान के संघर्ष के लिए जनमत जुटाया।

>  फ्रैंकफर्ट संसद पर टिप्पणी class 10 

              यह युद्ध 19वीं सदी के तीसरे और चौथे दशक में यरोप में घटित एक महत्वपूर्ण ऐतिहासिक घटना थी लेकिन इस स्वतंत्रता क्रांति ने पूरे यूरोप के शिक्षित अभिजात वर्ग में राष्ट्रीय भावनाओं का संचार कर दिया। यूरोप में क्रांतिकारियों ने राष्ट्रवाद की प्रगति के द्वारा ­यूनानियों का आजादी  के लिए संघर्ष 1821 में आरंभ किया ।

Greek independence war in hindi
Greek-independence-war-hindi

अंग्रेज कवि लॉर्ड बायरन ने धन एकत्र  किया और युद्धभूमि में लड़ने भी गए तथा 1824 ई० में बीमारी के कारण उनका निधन हो गया। अन्ततः 1832 ई० की ­कुस्तुनतुनिया की संधि ने यूनान को एक स्वतन्त्र राष्ट्र की मान्यता दी। इस युद्ध के महत्व को निम्न  प्रकार स्पष्ट कर सकते हैं

  • युद्ध ने यूरोप में प्रतिक्रियावाद की जड़े हिला दी।
  • रूस का अन्तर्राष्ट्रीय क्षेत्र में काफी महत्त्व बढ़ गया।
  •  युद्ध के फलस्वरूप यूनान एक स्वतन्त्र राज्य बन गया और यूनानी अपनी प्राचीन सभ्यता एवं संस्कृति का विकास करने लगे।
Greek independence war in hindi
F&Q-section-greek-independent-war-hindi

यूनानी स्वतंत्रता युद्ध पर प्रश्न उत्तर | important Question And Answer on Greek Independent War :-

यूनान की स्वतंत्रता युद्ध कब हुई ?

यूनान की स्वतंत्रता 1832 में कुस्तुनतुनिया की संधि  के उपरांत | यूनान एक स्वतन्त्र राज्य बन गया अपनी संस्कृति तथा सभ्यता का विकास करने लगा।

15वीं सदी में यूनान किस साम्राज्य का हिस्सा था ?

15 वीं सदी में यूनान ­­­­­­­­­­­­­­­­­­­­­­­­­­­­­­­­­­­­ ऑटोमन साम्राज्य का हिस्सा था | इसके कई वर्षों के पश्चात यूनान की प्रशंसा के लिए संघर्ष आरंभ हुआ और 1832 ईस्वी में यूनान स्वतंत्र हुआ |

1832 की संधि का नाम बताइए जिसने ग्रीस को एक स्वतंत्र राष्ट्र के रूप में मान्यता दी ?

1832 कि कुस्तुनतुनिया की संधि ने यूनान को एक स्वतंत्र राष्ट्र की मान्यता दी |

1 thought on “यूनानी स्वतंत्रता युद्ध | yoonaanee svatantrata yuddh hindi mai | now gyan”

  1. Pingback: फ्रैंकफर्ट संसद | Frankfurt parliament in hindi class 10 | now gyan

Leave a Comment

Your email address will not be published.